पद्म पुरस्कार-2023 में राजस्थान

padmshree-2023

पद्म पुरस्कार-2023 में राजस्थान

पद्म पुरस्कार

देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में पद्म पुरस्कार शामिल है। यह पुरस्कार कला, सामाजिक कार्य, सार्वजनिक मामले, विज्ञान और इंजीनियरिंग, व्यापार और उद्योग, चिकित्सा, साहित्य और शिक्षा, खेल, सिविल सेवा आदि जैसे विभिन्न विषयों/गतिविधियों के क्षेत्रों में दिए जाते हैं। प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर पुरस्कारों की घोषणा की जाती है। पद्म पुरस्कार तीन श्रेणियों के रूप में प्रदान किए जाते हैं

  • पद्म विभूषण – असाधारण और विशिष्ट सेवा के लिए
  • पद्म भूषण – उच्च स्तर की विशिष्ट सेवा के लिए
  • पद्म श्री – किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट सेवा के लिए

ये पुरस्कार भारत के राष्ट्रपति द्वारा औपचारिक समारोहों में प्रदान किए जाते हैं जो आमतौर पर हर साल मार्च/अप्रैल के आसपास राष्ट्रपति भवन में आयोजित किए जाते हैं। वर्ष 2023 के लिए राष्ट्रपति ने 106 पद्म पुरस्कार प्रदान करने की मंजूरी दी है। जिनमे 6 पद्म विभूषण, 9 पद्म भूषण और 91 पद्म श्री पुरस्कार शामिल हैं। पुरस्कार पाने वालों की सूची में 19 महिलाएं हैं और विदेशियों/एनआरआई/पीआईओ/ओसीआई की श्रेणी के 2 व्यक्ति और 7 मरणोपरांत पुरस्कार पाने वाले भी शामिल हैं।

राजस्थान राज्य से 3 पद्म पुरस्कार प्राप्त करने वाले 4 व्यक्ति है इनमे प्रख्यात गजल गायक श्री अहमद हुसैन एवं श्री मोहम्मद हुसैन को संयुक्त रूप से कला के क्षेत्र में, श्री मूलचंद लोढ़ा और श्री लक्ष्मण सिंह को समाजसेवा के क्षेत्र में पद्म श्री पुरस्कार प्राप्त हुआ है।

गजल गायक श्री अहमद हुसैन एवं श्री मोहम्मद हुसैन

गजल गायकी और शास्त्रीय संगीत में उत्कृष्ट योगदान हेतु जयपुर घराने से ताल्लुक रखने वाले अहमद हुसैन और मोहम्मद हुसैन को पद्मश्री से सम्मानित किया गया है।
गजल गायकी के उस्ताद हुसैन बंधुओं का पहला एल्बम गुलदस्ता 1980 में रिलीज हुआ था और अभी तक इनके 50 से ज्यादा एल्बम आ चुके हैं। वर्ष 2000 में इनको संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। हुसैन बंधुओं ने पूरी दुनिया में गजल और शास्त्रीय संगीत के चौरिटी शो करके समाज सेवा में भी काफी योगदान दिया है।

मूलचंद लोढ़ा

राजस्थान के डूंगरपुर जिला के आदिवासी बहुल बांगड़ इलाके से ताल्लुक रखने वाले श्री मूलचंद लोढ़ा आदिवासियों के उत्थान के लिए जागरण जन सेवा मंडल नामक संस्था चलाते हैं। श्री मूलचंद लोढ़ा इस क्षेत्र के आदिवासी और पिछड़े इलाकों में चिकित्सा, शिक्षा और आदिवासियों के कल्याण के लिए पिछले 5 दशक से लगातार कार्य कर रहे हैं | इनके द्वारा निशुल्क नेत्र चिकित्सालय भी खोले गए है। इनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए वर्ष 2023 का पद्मश्री सम्मान श्री लोढ़ा को दिया गया है।

लक्ष्मण सिंह लापोड़िया

जयपुर जिले के दूदू ब्लॉक के लापोड़िया गांव निवासी लक्ष्मण सिंह लापोड़िया को राष्ट्रपति द्वारा पद्मश्री से सम्मानित किया गया है। उन्हें ये सम्मान पिछले 40 सालों से पानी बचाने और पर्यावरण के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए दिया गया है। श्री लापोडिया ने राजस्थान के जयपुर जिले में जल संरक्षण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य किया है इन्होंने जल संरक्षण के लिए परंपरागत चौका पद्धति से 5 लाख वर्ग मीटर जमीन को सिंचित और उपजाऊ बनाया है। श्री लापोडिया ने इलाके के करीब 100 गांवों में जल संरक्षण के लिए उल्लेखनीय कार्य किए हैं।

पद्म पुरस्कार 2023 विजेताओं की सूची

पद्म पुरस्कार-2023 में राजस्थान / पद्म पुरस्कार-2023 में राजस्थान

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: © RajRAS